भूत को वश में कैसे करें, भूत वशीकरण साधना कैसे करे

को वश में कैसे करें
भूत को वश में कैसे करें, भूत वशीकरण साधना कैसे करे 4

Bhoot ko vash me kaise kare तांत्रिक साधना करना हर किसी के बस की बात नहीं होती है, वहीं कई लोग तो ऐसे होते हैं जो तांत्रिक साधना तो छोड़िए उन्हें यही नहीं पता होता है कि आखिर तंत्र मंत्र क्या होता है क्योंकि तंत्र मंत्र को समझने के लिए आदमी का दिमाग बिल्कुल एकाग्र होना चाहिए कई लोग ऐसे होते हैं जो सिर्फ आजमाने के लिए तंत्र मंत्र के बारे में जानने की इच्छा रखते हैं हालांकि ऐसे लोगों को तंत्र मंत्र से दूर रहना चाहिए क्योंकि कभी-कभी अगर कोई व्यक्ति सिर्फ तंत्र मंत्र को आजमाने के लिए ही किसी मंत्र का जाप करता है या टोटका करता है तो पूरी जानकारी ना होने के कारण उसका साइड इफेक्ट मंत्र का जाप या फिर टोटका करने वाले व्यक्ति के ऊपर ही हो जाता है।

भूत को वश में कैसे किया जाता है

image
भूत को वश में कैसे करें, भूत वशीकरण साधना कैसे करे 5

भारतीय तंत्र साधना में ऐसी कई तांत्रिक साधनाओं के बारे में बताया गया है, जिसका इस्तेमाल करके आप असंभव से असंभव काम को भी कर सकते हैं| जैसे कि मारण जैसी तांत्रिक क्रिया को करके आप किसी भी व्यक्ति की जान भी ले सकते हैं, वही वशीकरण जैसी क्रिया करके आप किसी भी व्यक्ति को अपने वश में कर सकते हैं, तंत्र विद्या के बारे में ऐसा कहा जाता है कि इसमें अपार संभावना है और तांत्रिक क्रिया को करके असंभव से असंभव काम को भी किया जा सकता है आपने अभी तक सिर्फ महिला या पुरुष के वशीकरण के बारे में ही सुना होगा परंतु आज हम आपको भूत वशीकरण के बारे में बता रहे हैं आइए जानते हैं कि भूत को अपने वश में कैसे करें या भूत का वशीकरण कैसे करें ?

भूत को वश में करने की साधना कैसे करनी चाहिये

हम इस आर्टिकल में आपको भूत को अपने वश में करने की साधना के साथ-साथ कुछ उपायों के बारे में भी बताएंगे जिसका इस्तेमाल करके आप भूत को वश में कर सकते हैं फिलहाल आइए जानते हैं कि भूत को वश में करने के लिए कौन सी साधना की जाती है या भूत वशीकरण साधना कैसे करें।

भूत वशीकरण साधना के नियम कौन से होते है

Rules
भूत को वश में कैसे करें, भूत वशीकरण साधना कैसे करे 6
  • ऐसा कहा जाता है कि भूत प्रेत की गिनती अलौकिक शक्ति यानी कि पैरानॉर्मल एनर्जी मे की जाती है क्योंकि यह हमारी मानव जिंदगी के आस-पास ही रहते हैं हालांकि यह सामान्य इंसान को नहीं दिखाई देते हैं,परंतु बहुत से लोगों को भूतों का अनुभव होता है।
  • इसलिए भूत की साधना करने के लिए आपको किसी एकांत जगह को पसंद करना होता है जहां पर आपको कोई डिस्टर्ब ना कर पाए इसके अलावा हम आपको बता दें कि भूत प्रेत की साधना आपको बिना किसी गुरु के नहीं करनी चाहिए साथ ही भूत प्रेत की साधना करने में आपको ब्रम्हचर्य का भी ध्यान रखना चाहिए और ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए| भूत प्रेत की साधना के दरमियान आपको अपने हाथों से बना हुआ खाना ही खाना चाहिए।
  • भूत प्रेत की सिद्धि करने के लिए चमड़े से बनी हुई चीजों का इस्तेमाल करना बिल्कुल मना किया गया है इसके अलावा साधना के दरमियान किसी भी प्रकार का नशा या फिर दारू अथवा मांस का सेवन करना भी मना किया गया है अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको साधना का फल नहीं मिलता है।
  • आपको बता दें कि इसके अलावा आपको गंदा रहना, स्नान न करना, गंदे वस्त्र पहनना, गंदे स्थान पर निवास, झोंपड़ी बनाना, रास्ते चलते खाना, खाने के बाद हाथ-मुंह न धोना आदि किया जाता है खाली मकान, गंदे स्थान, एकांत स्थान, पीपल के पेड़ के पास, अकौड़े के पौधे के पास जाना, रहना या इन स्थानों का गंदगी करके अपमान करने से आपको बहुत पीड़ा का सामना करना पड़ सकता है।

भूत को आकर्षित कैसे करे

भूत को आकर्षित करने के लिए आपको कहीं पर भी बाहर जाते समय सुगंधित इत्र या फिर परफ्यूम लगाकर जाना चाहिए इसके अलावा आप रास्ते में चलते समय मीठी वस्तु खाकर भी भूत को आकर्षित कर सकते हैं क्योंकि उन्हें यह वस्तुएं बहुत ही ज्यादा पसंद होती है, इसके अलावा किसी सुंदर महिला के साथ या व्यक्ति के साथ बन ठन कर घूमने फिरने जाना तथा किसी सुनसान जगह से दोपहर या फिर शाम के समय से निकालने से भी भूत आकर्षित होते हैं, क्योंकि भूत ऐसी योनी होती है, जो मरने के बाद मुक्त नहीं हो पाती है और उनका मन भी सांसारिक भोग को भोगने के लिए व्याकुल होता है।

इन्हे भी पढ़े

भूत वशीकरण साधना की विधि क्या होती है

भूत को अपने वश में करने के लिए आपको मूल नक्षत्र में चौके का कच्चा पानी बबूल के पेड़ की जड़ में लगातार 41 दिन तक डालना होता है और 41 दिन तक आपको नीचे दिए गए मंत्र का एक बार जाप करना होता है, 42 वें दिन आपको बबूल के पेड़ में पानी नहीं डालना है| ऐसा करने पर बबूल के पेड़ का भूत सामने आकर आपसे पानी मांगेगा| ऐसे में आपको भूत से अपने किसी भी काम को पूरा करने का वचन लेना है,इस प्रकार भूत आपके वश में हो जाएगा| इसके बाद जब तक आप बबूल के पेड़ में पानी डालते रहेंगे, तब तक भूत आपके वश में रहेगा आपको बता दें कि यह क्रिया किसी तांत्रिक व्यक्ति के निर्देश में ही करनी है और इसका प्रयोग करने से पहले आपको सुरक्षा कवच धारण कर लेना,ताकि आपको कोई नुकसान ना हो।

भूत वशीकरण मंत्र क्या होता है

ॐ अं अं कं व भुं भूतेश्वरी मम वश्य कुरू कुरू स्वाहा।

भूत वशीकरण विधि का प्रयोग करते समय किन-किन बातो को ध्यान रखना चाहिये

आपको बता दें कि, कई लोग यह सवाल पूछते हैं कि बबूल के पेड़ में पानी सुबह डालना है या शाम के समय डालना है, तो हम आपको बता दें, कि आपको बबूल के पेड़ में पानी शाम को डालना है,क्योंकि यह विधि शाम को ही की जाती है, इसके अलावा आपको बबूल के पेड़ से भूत को सिद्ध करने की विधि करने से पहले अपने ऊपर किसी सुरक्षा कवच को धारण कर लेना चाहिए,ताकि बुरी शक्तियां आपको कोई नुकसान ना पहुंचा पाए, साथ ही आपको इस बात का विशेष ध्यान रखना है कि 41 दिन पानी देने के बाद आपको 42 वें दिन बबूल के पेड़ की जड़ में पानी नहीं देना है।

ऐसा करने पर ही भूत आपके सामने आएगा और वह पानी मांगेगा| इसके बाद आपको भूत से अपना वचन लेना है और उसके बाद पानी को बबूल के पेड़ की जड़ में डाल देना है|जब तक आप बबूल के पेड़ की जड़ में पानी डालते रहेंगे, तब तक बबूल के पेड़ का भूत आपके वश में रहेगा और आपके सभी काम करेगा।

चेतावनी

सभी तांत्रिक साधनाएं एवं क्रियाएँ सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से दी गई हैं, किसी के ऊपर दुरुपयोग न करें एवं साधना किसी गुरु के सानिध्य (संपर्क) में ही करे अन्यथा इसमें त्रुटि से होने वाले किसी भी नुकसान के जिम्मेदार आप स्वयं होंगे।

हमारी वेबसाइट trickhindi.in का उदेश्य अंधविश्वास को बढ़ावा देना नही है, किन्तु आप तक वह अमूल्य और अब तक अज्ञात जानकारी पहुचाना है, जो Magic (जादू) या Paranormal (परालौकिक) से सम्बन्ध रखती है, इस जानकारी से होने वाले प्रभाव या दुष्प्रभाव के लिए हमारी वेबसाइट की कोई जिम्मेदारी नही होगी कृपया-कोई भी कदम लेने से पहले अपने स्वा-विवेक का प्रयोग करे।

आशा करता हूँ दोस्तों की आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा ,अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा है तो प्लीज आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।